Which is Best Diaper for new born in India

0
43

Best Diaper for new born in India:- अगर आप अभी नये माता पिता बने हैं और आप यह तय नहीं कर पा रहे हैं कि आपके नवजात शिशु के लिये कौन सा Diaper अच्‍छा रहेगा क्‍योंकि आज के समय  में बाजार में बहुत सी कम्‍पनियों के Diaper मौजूद हैं। अत हमारे इस लेख को पढने के बाद आप Diaper के बारे में निर्णय लेने में सक्षम हो जायेंगे की आपको कौनसा Diaper अपने नवजात शिशु के लिये प्रयोग में लाना चाहिये।

माता-पिता होने के नाते हमारा यह फर्ज बनता है कि हम अपने शिशु के लिये ऐसी Best क्‍वालिटी का प्रोडेक्‍ट चुने जिससे हमारे शिशु को किसी भी प्रकार से कोई नुकसान न हो क्‍योंकि यदि हम ऐसे Diaper का चयन करते हैं जोकि पानी कम सूखता है तो उससे आपके शिशु को कई प्रकार की बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है वजह आपका शिशु गीलेपन का अनुभव करता रहेगा और उसकी नींद भी खराब होगी।

इसलिये आपको अपने बच्‍चें के लिये Best Diaper का चयन करना चाहिये जिससे कि उससे वह साफ, सूखा और स्‍वस्‍थ रहे तथा उसे किसी प्रकार कि हानि न हो।

तो चलिये जानते हैं‍ Diapers और उससे संबंधित विशेषताओं के बारे मे।

How many types of Diaper Available in the market and How to Chose Best diaper for new born in india

वर्तमान में बाजार में दो प्रकार के Diaper मौजूद हैं

Cloth Diaper:– यह Diaper मुलायम कपड़े से बना होता है जोकि एक से अधिक बार भी प्रयोग में लाया जा सकता है क्‍योंकि इस Diaper को धोया, सुखाया और पुन: इस्‍तेमाल किया जा सकता है।

Disposable Diaper:- भारत में यह सबसे ज्‍यादा बिकने वाले Diaper हैं इसके बनाने में आमतौर पर Sodium polycrylate, wood pulp, dye, fiber आदि का इस्‍तेमाल किया जाता है। इस प्रकार के Diaper काे केवल एक बार ही प्रयोग में लाया जा सकता है। भारत में बहुत सही कम्‍पनियों हैं जो Disposable Diaper बनाती हैं।

Diaper को प्रयोग में लाने से पहले की सावधानियां

  • आपको अपने बच्‍चे की त्‍वचा के आधार पर Diaper का चयन करना चाहिये यदि आपके बच्‍चें की त्‍वचा Sensitive है तो आपको एलोविरा का प्रयोग करके बनाये गये Diaper को प्रयोग में लेना चाहिये या‍ फिर ऐसे Diaper को प्रयोग में लेना चाहिये जो Sensitive Skin के लिये ही बने हो अन्‍यथा आपके बच्‍चे की Skin पर Rush हो सकते हैं।
  • ऐसे Diaper का चयन करना चाहिये जो लगभग पूरी रात के गीलेपन को सूखने में सक्षम हो।
  • वैसे आमतौर पर आपको अपने बच्‍चों की त्‍वचा को किसी भी प्रकार के Infection, Skin Rushes से बचाने के लिये Diaper को बच्‍चे के गीले होने के प्रत्‍येक ४ घण्‍टे बाद अवश्‍य बदलना चाहिये।
  • एक Diaper को उतारने के बाद तुरन्‍त दूसरा Diaper नहीं पहनाना चाहिये क्‍योंकि बच्‍चें की Skin को भी सांस लेना का समय मिलना चाहिये ताकि उसकी त्‍वचा स्‍वस्‍थ रहें।
  • Diaper निकालने के बाद बच्‍चें की त्‍वचा को साफ करना न भूले तथा हो सके तो बच्‍चे की त्‍वचा पर कोई Lotion, Oil, moisturizer का प्रयोग करें ताकि बच्‍चे की त्‍वचा मुलायम और स्‍वस्‍थ रहे।
  • Gel based Diaper, Cream Based Diaper या कपडें से बने ड्राइपर को ही प्रयोग में लेना चाहिये तथा दिन के समय में ज्‍यादा वजनी ड्राइपर का प्रयोग नहीं करना चाहिये।
  • Diaper Size आपको अपने बच्‍चे के लिये उचित साईज का ड्राइपर लेना चाहिये क्‍योंकि यदि Diaper का आकार ज्‍यादा छोटा होगा तो वह आपके बच्‍चे के तंग आयेगा जिसके चलते आपका बच्‍चा अपनी दोनों टांगो को सही से नहीं चला पायेगा और उसे Skin Rushes का भी खतरा रहेगा।

Best Diaper and their Features

Wetness Indicator Diaper:- इस तरह के Diaper में ३ लाईन बनी होती हैं जो कि बताती की आपके बच्‍चे का Diaper कितना गीला हो चुका है जिसके देखकर आप अपने बच्‍चे के ड्राइपर को सही समय पर बदल सकती हैं।

Eco Friendly Diaper:- आज के समय के नवविवाहित पर्यावरण का भी पूरी तरह से ध्‍यान रखते हैं तथा वह ऐसी चीजे पसंद करते हैं जिनसे पर्यावरण को भी किसी तरह का कोई नुकसान न हो तथा जो साथ ही बच्‍चे के लिये भी अच्‍छी हो। आजकल बहुत सी ऐसी कम्‍पनियां हैं जो इस प्रकार के Diaper बनाते हैं जिससे पर्यावरण को कोई नुकसान नहीं होता।

Fragrance Diapers:- यह माता पिता पर निर्भर करता है कि वह कौन से Diapers का चयन करे Fragrance or Non Fragrance कोई बहुत से माता पिता महक को महत्‍व देते हुए Fragrance Diapers का चयन करते हैं।

Reusable Diapers:- ज्‍यादातर Reusable Diapers कपडे के बने होते हैं जिन्‍हें धोया, सुखाया तथा फिर से प्रयोग में लाया जा सकता है।

https://www.topicinhindi.com/organic-shampoo-for-new-born

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here