What is Full Form of ITI | ITI Full Form | ITI Ka Full Form.

0
71
ITI FULL FORM

ITI KA Full Form इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट यानि औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान है in English The full form of ITI is Industrial Training Institute.

आई0टी0आई0 क्‍या हाेती है? What is ITI?

आईटीआई की स्थापना रोजगार और प्रशिक्षण महानिदेशालय (डीजीईटी), कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय और केंद्र सरकार द्वारा विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए की गई थी। यह एक सरकारी प्रशिक्षण संगठन है जो ऐसे छात्रों जिन्‍होंने 10 वी0 पास कर ली हो और उद्योग से संबंधित शिक्षा प्राप्‍त करना चाहता हो को शिक्षा प्रदान करता है।

जो ऐसे छात्रों जिन्होंने 10 वी0 पास कर ली हो और उद्योग से संबंधित शिक्षा प्राप्त करना चाहता हो को शिक्षा प्रदान करता है। ऐसे सभी छात्र जिन्होंने 10 वीं पास कर ली हो और इसके बाद वह उच्च शिक्षा के बजाय तकनीकी शिक्षा प्राप्त करना चाहते हो तो वह आई0टी0आई0 में दाखिला लेकर तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर सकते हैं।

आई0टी0आई0 के अन्तर्गत कुछ ऐसी भी ट्रैड होती हैं जिनमें आप 8 वी0 करने के बाद भी दाखिला ले सकते हैं यह जरूरी नहीं है कि आप 10 वीं करने के बाद ही आई0टी0आई0 कर सके।

आई0टी0आई0 कहां से की जा सकती है?

भारत में सरकारी व गैर सरकारी यानि निजी संस्थाान दोनों के माध्य्म से ही आई0टी0आई0 कर सकते हैं क्योंकि दोनों ही तकनीकी शिक्षा प्रदान करते हैं। अगर आप सरकारी संस्थानों के माध्यम से आई0टी0आई0 करना चाहते हैं तो आपको दाखिला लेने से पूर्व एक लिखित परीक्षा में उत्तीर्ण होना आवश्यंक है। वहीं अगर आप निजी संस्था्नों के माध्यम से तकनीकी प्रशिक्षण लेना चाहते हैं तो हो सकता वहां पर आपका दाखिला बिना किसी लिखित परीक्षा के हो जाये।

आई0टी0आई का प्रशिक्षण पूरा होने के बाद उम्मीदवार अखिल भारतीय व्यापार परीक्षा (एआईटीटी) के लिए उपस्थित होंगे, जिसके उपरान्त् योग्य आवेदकों को राष्ट्रीय व्यापार प्रमाणपत्र (एनटीसी) जारी किया जाता है।

ITI की अवधि कितनी होती है?

चूंकि भारत में आई0टी0आई0 की विभिन्न् ट्रैड होती हैं और हर ट्रैड की अलग-अलग समय सीमा होती है यह सीमा 6 माह से लेकर 2 साल तक की होती है। और यह आप पर भी निर्भर करता है कि आप कौन सी ट्रैड के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त करना चाहेंगे उस के आधार पर आपके प्रशिक्षण की अवधि होगी।

आई0टी0आई0 में कितने प्रकार के पाठ्यक्रम होते हैं?

आई0टी0आई0 के अन्तर्गत दो प्रकार के पाठ्यक्रम होते हैं-

इंजीनियरिंग व्यापार
गैर-इंजीनियरिंग ट्रेड

इंजिनियरिंग व्यापार में प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु आपके पास विषय विज्ञान, गणित में‍ शिक्षा प्राप्त होना आवश्‍यक रहता है। जबकि गैर इंजिनियरिंग ट्रैड में प्रशिक्षण प्राप्त करने हेतु ऐसा आवश्यक नहीं होता क्योंकि गैर इंजिनियरिंग में तकनीकी प्रशिक्षण नहीं आता इसमें केवल भाषाएं, साफ्ट स्किल्सा और अन्या प्रशिक्षण आते हैं।

क्याा आप जानते हैं कि शार्ट हैण्ड Shorthand अन्य नाम आशुलिपि भी एक भाषा है जिसका प्रशिक्षण भी आई0टी0आई0 के माध्य्म से प्राप्त कर सकते हैं। शार्टहैण्ड का प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद आप केन्द्रं सरकार या राज्य सरकार किसी भी सरकार में आशुलिपिक का पद निकला हो, में आवेदन कर सकते हैं।

आज के समय में भी शार्टहैण्ड के माध्‍यम से नौकरी पाना बहुत आसान है क्योंकि बहुत कम लोग ही शार्टहैण्ड का प्रशिक्षण प्राप्त् करते हैं इसलिए अधिकतर शार्टहैण्ड वाली नौकरी पूरी भर ही नहीं पाती है खाली रह जाती हैं।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि मेरे स्वयं के परिवार में भी 3 लोग शार्टहैण्ड करने के बाद सरकारी नौकरी पर लगे हैं तथा सीधे उच्च अधिकारियों से अटैच रहते हैं क्योंकि शार्टहैण्ड करने के बाद आप अधिकारियों के पी0ए0 बनते हैं।

आई0टी0आई0 में एडमिशन लेने के लिये क्या पात्रता मानदंड हैं।

आई0टी0आई0 में एडमिशन लेने के लिये क्याय पात्रता मानदंड हैं।
वैसे तो हर ट्रैड के लिए अलग-अलग योग्यता निर्धारित है परन्तु फिर भी कुछ सामान्या योग्यीताएं निम्न है।

  1. आवेदनकर्ता 10वी0 पास होना चाहिये या फिर उसने ऐसी परीक्षा उत्तीर्ण की हो जो 10वी0 के समकक्ष होती हो।
  2. आवेदनकर्ता द्वारा लिखित परीक्षा में कम से कम 35 प्रतिशत अंक लाना अनिवार्य होता है तभी वह दाखिला ले सकता है।
  3. आवेदक की आयु 14 वर्ष से 40 वर्ष के मध्य् होनी आवश्यक है।

भारत में गैर सरकारी व सरकारी आई0टी0आई0 संस्थानों की संख्‍या कितनी है?

भारत के अन्दर कुल 2738 सरकारी आई0टी0आई0 संस्थान है तथा कुल 12304 गैर सरकारी यानि निजी संस्थान है। तथा आई0टी0आई0 के अन्तर्गत आने वाले कुल 126 पाठ्यक्रम हैं।

प्रमुख पाठ्यक्रम

फिटर(Fitter) बिजली मिस्त्री(Electrician)
बढ़ई(Carpenter)
फाउंड्री मान(Foundry Man)
बुक बाइंडर(Book Binder)
नलसाज(Plumber)
प्रतिमान निर्माता(Pattern Maker)
मेसन बिल्डिंग कंस्ट्रक्टर(Mason Building Constructor)
उन्नत वेल्डिंग(Advanced Welding)
वायरमैन(Wireman)